लड़की से दोस्ती कैसे करें? ये सीक्रेट तरीका कोई नहीं बताएगा!

0
47

अगर आप सिंगल है और लाइफ में किसी लड़की से दोस्ती यानि फ्रेंडशिप करना चाहते हैं, लेकिन आपको लड़की से बात करना नही आता, आपको लड़की से बात करने में शर्म, जिझक होती है तो फिर आज आपको लड़की से दोस्ती कैसे करें? जरुर पढना चाहिए।

लड़की से दोस्ती कैसे करें

देखिये विदेशों में तो लड़के लड़की में फ्रेंडशिप होना आम बात है, लेकिन हमारे देश में आज भी लड़के और लड़कियों की दोस्ती आमतौर पर समाज में कम दिखाई देती है।

इसलिए कई लोगों को लगता है लड़कियों से बात करने और उन्हें अपना दोस्त बनाना हमारे बस की बात नहीं, पर ऐसा नहीं है नीचे इस सम्बन्ध में कुछ उपयोगी टिप्स दिए गए हैं।

लड़की से दोस्ती क्यों करना जरूरी है?

आमतौर पर लड़की से बात करने या उसे अपना दोस्त बनाने की कोई वजह हमारे पास नहीं होती पर हमें लड़की से बात करने से पहले एक उद्देश्य बनाना चाहिए, देखिये काफी कुछ ऐसी बातें हैं जो हमें लड़की से बात करके उससे मित्रता करके सीखने को मिलती हैं।

एक लड़की से दोस्ती करके हमें और लड़कियों को समझने, उनकी choices को जानने का मौका मिलता है, जो कभी भी लड़कों से दोस्ती करते हुए नहीं जाना जा सकता। तो बेशक आपको मित्रता करनी चाहिए लेकिन देखिये लड़की से दोस्ती करने के पीछे आपका उद्देश्य क्या है?

 2 वजह हो सकती हैं किसी लड़की से दोस्ती करने की पहला क्या आप दोस्ती करके उसके साथ सिर्फ शारीरिक सम्बन्ध बनाने की सोच रहे हैं? दूसरा आपके पास ये भी विकल्प है की उससे मित्रता करके आप अपने और उसके जीवन को बेहतर बनाना चाहते हैं उसकी भलाई करना चाहते हैं।

देखिये अगर इनमें से अगर आप पहला रास्ता चुनते हैं तो फिर उसे आप दोस्ती का नाम न दें तो बेहतर होगा क्योंकि ये फिर हवस कही जाएगी की आप किसी से दोस्ती कर रहे हैं ताकि अपनी शारीरिक इच्छा को पूरा कर सके।

दूसरा आप दुसरे की भलाई का रास्ता चुन सकते हैं।

भलाई से मेरा मतलब है आप जिस लड़की से दोस्ती करें उसे आप पहले से एक बेहतर इंसान बना दें। उसकी कमियों को ठीक करने में उसकी सहायता करे यही एक सच्ची मित्रता है। तो मुझे लगता है आप किसी लड़की से सच्ची मित्रता करना चाहेंगे। तो आइये अब जानते हैं।

प्यार में तड़प क्यों होती है? ये है असली वजह

लड़की से दोस्ती कैसे करें? अपनाएं ये 10 तरीके

#1. लडकी को जानें और समझें

सबसे पहले जिस लड़की से आप दोस्ती करना चाहते हैं उसके बारे में करीब से जानिये, उसकी शिक्षा, उसकी आदतें, उसके फ्रेंड सर्कल को समझिये किन लोगों से उसकी बातचीत और उठना बैठना होता है। क्योंकि ये छोटी छोटी बातें आपको आगे उससे दोस्ती करने में मददगार साबित होंगी। साथ ही ये भी देखिये उस लड़की का व्यवहार कैसा है? वो गम्भीर रहती है या एक दम खुशमिजाज लड़की है।

#2. उसकी न सुनने के लिए तैयार रहें!

लड़की के बारे में जानने के बाद अगला कदम है उससे दोस्ती की खातिर बातचीत के लिए खुद को तैयार करना, अब देखिये लड़कियां यूँ ही किसी को अपना मित्र नहीं बना लेती, भले आपकी मंशा उसकी भलाई हो पर जब आप उससे बात करें।

ये सम्भावना है की आपको डांट लगाए, आपसे गुस्सा हो पर आपको पहले ही इन चीजों के लिए तैयार रहना है। अब वास्तव में ऐसा न हो लड़की आपसे बात करे पर क्या पता बस आप खुद को तैयार रखिये।

#3. लड़की से बातचीत का प्रयास करें।

अब आप उस लड़की से धीरे धीरे किसी बहाने से बातचीत करने की कोशिश कीजिये, अब यह लड़की भले आपके पड़ोस में हो या मोहल्ले में, देखिये किस तरह आप उससे बात चीत आकर सकते हैं।

और आजकल तो जमाना ऑनलाइन है तो देखिये किस तरह आप उससे फेसबुक, instagram जैसे प्लेटफार्म पर बातचीत शुरू कर सकते हैं, हो सकता है एक बारी में वो आपसे बात न करें लेकिन आप प्रयास जारी रखें तो जरुर कुछ समय बाद आपसे बातचीत शुरू हो जाएगी।

#4. लड़की से पसंद ना पसंद के बारे में बात करें।

अब जब आपकी बातचीत आगे बढ़ें तो आपको धीरे धीरे एक दोस्त की तरह नहीं बल्कि एक सामान्य व्यक्ति की तरह उससे उसकी पसंद जानने की कोशिश करनी है, आप पूछ सकते हैं जैसे आपको क्या खेलना पसंद है?

कहाँ घूमना पसंद है और कौन सी चीजों से सख्त नफरत है। इत्यादि जब आप इस तरह लड़की से मजाकिया अंदाज में बातचीत करेंगे और उसे भी अपनी पसंद-नापसंद को बताएँगे तो आपकी बातचीत में इंटरेस्ट बढ़ने लगेगा।

#5. लड़की की हेल्प करें!

अब बातों ही बातों में देखिये पढ़ाई में या किसी और चीज़ में कैसे आप उसकी मदद कर सकते हैं, देखिये मदद करना इसलिए जरूरी है क्योंकि ऐसा करके इंसान लम्बे समय तक किसी को भूल नहीं पाता है।

 तो देखिये किस तरह से आप उसकी छोटी ही सही मदद कर सकते हैं, उदाहरण के लिए उसे किसी जॉब की तलाश है तो आप उसे वो ढूंढकर मदद कर सकते हैं, जब आप मित्रता में किसी की मदद कर देते हैं तो इससे दोस्ती गहरी हो जाती है।

#6. लडकी को फ्रेंडशिप के लिए पर्पोस करें।

अब अंत में जब आपको लगे सही समय है यह कहने का की मैं आपसे फ्रेंडशिप करना चाहता हूँ? तो आप कह डालिए! और जाहिर सी बात है आप लड़की के बॉयफ्रेंड नहीं सिर्फ एक फ्रेंड बन रहे हैं।

 तो फिर लड़की जब आपके बारे में जान चुकी होगी तो उसे भी कोई समस्या नहीं होगी आपके साथ दोस्ती करने में! और अक्सर एक फ्रेंड से लड़कियां वो बातें भी शेयर कर देती हैं जो बॉयफ्रेंड से भी वह नहीं कह पाती।

#7. लड़की की कमियां जानें और उसे चुनौती दें!

अब धीरे धीरे जब खुलकर आप एक दूसरे के साथ बातचीत करने लगे तो अब दोस्ती के इस पड़ाव में आपको लड़के में कमियां ढूंढनी है, देखनी हैं कौन सी चीजें हैं जिसकी वजह से लड़की का विकास नहीं हो रहा, क्या उसे लोगों से बात करने में झिझक होती है, या वो जॉब के लिए पापा के पैसों पर आज भी निर्भर है इत्यादि!

अब धीरे धीरे लड़की की उन कमियों को सुधारने में उसकी मदद करें, उसे आगे बढाने में सपोर्ट करें उसे अपनी कमियों को सुधारने में चैलेन्ज दें ताकि वो पहले से एक बेहतर इन्सान बन सके! और वास्तव में यही सच्ची मित्रता होती है!

#8. लड़की को आत्मनिर्भर बनाएं!

देखिये, जीवन में अगर आप दूसरे पर निर्भर होकर अधिक दूर तक नहीं जा सकते, और लड़कियों के मामले में यह खासतौर पर देखा जाता है की लड़कियों को किसी भी उच्च शिक्षा से,  या किसी बेहतर काम को करने से भी इसलिए दूर रखा जाता है क्योंकि उनकी जिम्मेदारी परिवार के पास होती है।

इसलिए अगर आप किसी लड़की से दोस्ती करते हैं और उसकी भलाई चाहते हैं तो आपको उसे आत्मनिर्भर बन्ने के लिए प्रेरित करना चाहिए, ताकि वो जिन्दगी को अपने मन मुताबिक़ जी सके।

वो जीवन में हर उस चीज़ को पा सके जिससे उसका जीवन बेहतर होता है पर अगर लड़की अपने पैरों पर खड़ी नहीं है तो इसका मतलब है उसके पैरों पर लगी बेड़ियाँ उसे आगे बढ़ने नहीं देगी।

#9. अपनी कमियों के बारे में लड़की से बात करें!

धीरे धीरे जब आपको लगे आपकी दोस्त पहले से कई गुना बेहतर बन चुकी है, तो जिस तरह आपसे दोस्ती करके उसकी तरक्की हुई है उसी तरह आपकी भी भलाई हो।

इसके लिए आप लड़की से अपनी कमियों के बारे में बात करें कौन सी चीज़ है जिसे करने से आप कतराते हैं, डरते हैं और फिर दोनों इस समस्या का समाधान निकालें ताकि आपकी कमियां आपकी ताकत बन जाये!

#10. इसी दोस्ती को आगे बढ़ाएं।

अब जब आपकी दोस्ती का मतलब ही है एक दूसरे की भलाई तो फिर इस रिश्ते को न तो शादी का नाम दें, और न ही बॉयफ्रेंड या गर्लफ्रेंड का बस इसी दोस्ती को आगे बढाते रहिये।

और जब तक जीवन है सदा आप एक दूसरे का भला करने पर विचार कीजिये! एक दूसरे पर दोस्ती के नाम पर कोई शर्त या बंधन न डालें क्योंकि मित्रता में प्रेम होता है और प्रेम किसी को बांधता नहीं बल्कि खुली आजादी देता है!

दोस्ती में दूसरे की भलाई से क्या मिलेगा?

अब यदि आप एक विकसित और बेहतर इंसान हैं और आपको लगता है दूसरे से दोस्ती करके कौन उसे बेहतर बनाने में अपना समय और उर्जा लगाए? उससे मुझे क्या मिलेगा तो जवाब है अगर आपको वाकई किसी लड़की से प्रेम होगा तो फिर उससे कुछ चाहने की इच्छा नहीं होगी, बस प्यार में आप उसको देते रहेंगे देते रहेंगे!

 लेकिन अगर कुछ लेना भी है उससे, चाहे उसका शारीरिक सुख या कुछ और तो फिर समझ जाइए न तो आपके रिश्ते में दोस्ती रहेगी और न ही प्रेम, प्रेम तो बेवजह, अकारण होता है इसलिए प्यार क्यों होता है? इसका जवाब देना मुश्किल है।

प्यार सच्चा है या झूठा कैसे पता करें? ये है आसान तरीका

अंतिम शब्द

तो साथियों इस पोस्ट को पढने के बाद लड़की से दोस्ती कैसे करें? आप जान गए होंगे, साथ ही आपको ये भी पता चला होगा की लड़की से दोस्ती करने का सही तरीका क्या है? और कैसे हम एक लड़की से सच्ची दोस्ती कर सकते हैं, उम्मीद है आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा और आप इस जानकारी को शेयर भी करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here